प्राथमिक शाला म अब होही स्थानीय भाषा म पढ़ाई लिखाई - मुख्यमंत्री भूपेश बघेल


प्राथमिक शाला म अब होही स्थानीय भाषा म पढ़ाई लिखाई - मुख्यमंत्री भूपेश बघेल
  26/01/2020  


रायपुर ।। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ह जगदलपुर म गणतंत्र दिवस के मौका म झंडोत्तोलन करिस। ए दौरान सीएम ह परेड के निरीक्षण करिस अऊ प्रदेश के नाम संबोधन दिहिस । मुख्यमंत्री ह प्रदेश के नाम अपन संबोधन म देश अऊ प्रदेश के महान विभूति मन ल याद करिस अऊ देश के आजादी अऊ प्रदेश निर्माण म देहे उंकर योगदान के सुरता दिलाईस।

मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ह बड़का ऐलान करत हुए कहिस कि प्रदेश के प्राथमिक स्कूल म नवा शिक्षण सत्र से स्थानीय भाषा म शिक्षा देहे जाही । सीएम  शिक्षा के अधिकार कानून के जिक्र करत हुए कहिस कि प्रदेश म स्थानीय भाषा म शिक्षा देहे के प्रावधान ल लेके कभू प्रयास नई करे गईस।
मुख्यमंत्री कहिस कि प्राथमिक शाला म अब छत्तीसगढ़ी, गौंडी, हल्बी, कमार, सरगुजिया सहित प्रदेश म प्रचलित स्थानीय भाषा के आधार म शिक्षा देहे जाही।
मुख्यमंत्री कहिस कि आज गणतंत्र दिवस के अवसर पर मैं नवा पीढ़ी ल जागरूक अऊ सशक्त बनाए के संबंध म तीन नवा घोषणा करत हव । जब केन्द्र म यूपीए सरकार रहिस तब ’शिक्षा के अधिकार अधिनियम 2009’ म प्रावधान करे गए रहिस कि बच्चा मन ल यथासंभव उंकर मातृभाषा म पढ़ाये जाये।
विडंबना हे कि राज्य म अभी तक ए दिशा म ठोस पहल नई करे गईस । आगामी शिक्षा सत्र से प्रदेश के प्राथमिक शाला म स्थानीय बोली-भाषाओं छत्तीसगढ़ी, गोंडी, हल्बी, भतरी, सरगुजिया, कोरवा, पांडो, कुडुख, कमारी आदि म पढ़ाई के व्यवस्था करे जाही । जम्मों स्कूली लईका मन ल संविधान के प्रावधान से परिचित कराए बर प्रार्थना के समय संविधान के प्रस्तावना के वाचन, ओमार चर्चा जईसे कार्यक्रम आयोजित करे जाही। छत्तीसगढ़ के महान विभूति मन के जीवनी उपर परिचर्चा जईसे आयोजन कराए जाही।


अऊ खबर

img not found

06/09/2020 अपराध

img not found

21/11/2019 धान

Top