वन विभाग म बनत हे सड़क,पुल, पुलिया, तालाब ल कोन बनाथ हे, मालूम नई हे, विभाग के अफसर मन ल भी नई हे पता ?


वन विभाग म बनत हे सड़क,पुल, पुलिया, तालाब ल कोन बनाथ  हे, मालूम नई हे, विभाग के अफसर मन ल भी नई हे पता ?
  14/02/2020  


लिलेश्वर प्रसाद निषाद।। वन विभाग ल जंगल विभाग भी कहे जाथे , यह साबित करे म वन विभाग के आला अफसर एड़ी चोटी एक कर देत हे। गोपनीयता रखे भर कूट कूट के अपन विभाग के अधिकारी द्वारा अपन ले नीचे म पदस्थ कर्मचारी मन ल ट्रेनिग देहे गए हे ।

अईसन मामला बार अभ्यारण्य क्षेत्र म आघू आए हे, सेंचुरी क्षेत्र म सड़क निर्माण कार्य प्रारंभ हो गे हे। पुल पुलिया निर्माण लेके विभाग के आला अधिकारी कुछ भी बताए म असर्मथता जतात हे।

जब मीडिया कर्मचारी पहुचीस तो वहां काम के देख रेख करत रहीस चरोदा (बार) के वन रक्षक निषाद रहीस हे , जहाँ सड़क निर्माण कार्य चलत हे। कुछ ग्रामीण कार्य करत रहीस हे,  उकर मन ले निर्माण कार्य के बारें म पूछे बर गेन तो जवाब में कहीस कि मोला मालूम नई  हे ,डिप्टीरेंजर सालिकराम डड़सेना ह कुछ बता पाही, डड़सेना ल पूछेन त ओ ह भी हमार रेंजर साहब बताही कह के टालमटोल जवाब दिस, रेंजर ले बात करेन त कहीस कि मोला काम के बारे म कुछ पता नई हे, आप जनसंपर्क कार्यालय ले पूछ सकत हो।

त यहां सवाल उठत हे, कि बार रेंज म जवाबदार अधिकारी कोन हे, तो यहा अतका  बड़े अभ्यारण्य क्षेत्र के कोई माई बाप नई हे का, अऊ जंगल क्षेत्र म का होत हे सब अधिकारी मन जानत थे, पर कोई नई बताता हे जेकर ले साफ जाहिर होत अंदरखाना म कुछ न कुछ गड़बड़ जरुर चलत हे ,वन विभाग के कर्मचारी अधिकारी मन ह मौन धारण कर ले हे, तेन समझ से परे हे । लाखो करोड़ो के कार्य के स्वीकृत कर बिना सूचना बोर्ड लगाए कार्य करे जात थे अव कार्य समाप्ति म बोर्ड लगाये जाथे ।

एकर मतलब तो साफ हे, कार्य के जानकारी कोई  ल मत हो, काबर जानकारी हो जाये ले विभाग के पोल खुल सकत हे ,जाहिर हे एकरे कारण कोई भी कार्य के जानकारी विभाग कति ले नई दिए जात हे  ।

विभाग जब जनहित के कार्य ल करत  हे, त ओला बताये म मीडिया के सामने काबर कतरात हे ? वन विभाग के निर्माण कार्य म बात करन तो जेन कार्य म पंचायत 50 हजार म करत हे । उही कार्य ल वन विभाग 5 लाख मे करत हे, ऐसे काबर ?  एकर छानबीन उच्चस्तरीय म करे ले kR कई तरह के भ्रष्ट्राचार खुलकर आघू आ सकत हे।


अऊ खबर

img not found

06/09/2020 अपराध

img not found

21/11/2019 धान

Top