घोटाला के हद पार, बारनवापारा अभ्यारण क्षेत्र सेंचुरी म सड़क निर्माण कार्य म घोटाला


घोटाला के हद पार, बारनवापारा अभ्यारण क्षेत्र सेंचुरी म सड़क निर्माण कार्य म घोटाला
  03/03/2020  


रिपोर्टर-लिलेश्वर प्रसाद निषाद 

बलौदाबाजार  :- बारनवापारा अभ्यारण क्षेत्र म डब्लु0 बी0 एम0 सड़क निर्माण कार्य म बोल्डर के जगह म फर्शी पत्थरा के टुकड़ा के उपयोग करे जाथ  हे। ये सब वन विभाग के अधिकारी मन के सह म होथ  हे, सड़क बनाना हे बस गुणवत्ता ले कोई सरोकार नई, यदि जांच कराए जाए तो घोटाला ही घोटाला।

मामला बलौदाबाज़ार जिला के बारनयापारा अभ्यारण्य क्षेत्र के हे, जहाँ करोडों के कार्य करे जाथ  हे.  कार्य के कोई भी मापदण्ड नई हे कार्य करवाने वाला अर्थात विभागीय कर्मचारी मन ल  मालुम नई हे। वन विभाग के कर्मचारी मन ल  सिर्फ निगरानी करे बर  ही तैनात करे गे हे। लेकिन गुणवत्ता विहीन मटेरियल के इस्तेमाल वन विभाग के कर्मचारी द्वारा करे जाथ  हे। हमन क्या कहन कह के साफ तौर म कहीस, हमन क्य करबो जी हमन तो सिर्फ कतना कन सामान (मटेरियल) आए  हे यही देखना होत हे। अच्छा राहाय या खराब राहाय।

ग्राम चरौदा ले देवगांव के बीच म सड़क निर्माण कार्य करे जाथ  हे,  जेमा मुरूम, बोल्डर, रोलर इंजन, पानी टैंकर सबो प्रकार के मटेरियल के टेंडर दे गे हे। जेमा वन विभाग के कर्मचारी मन द्वारा कार्य कराए जाना हे, कर्मचारी मन ल  सब पता हे कतना मुरूम, बोल्डर लगाना हे। फिर भी चुप हो के भ्रस्टाचार ल बढ़ावा दे के काम करथ  हे। यहां वन विभाग के अधिकारी मन ह सड़क निर्माण कार्य बर अभ्यारण्य क्षेत्र के दोहन कर के भारी मात्रा म मुरूम के उपयोग करे गीस। जबकि मुरूम के टेंडर होना बताए जाथ  हे। नियम ऐ हे कि सेंचुरी क्षेत्र म कोई प्रकार के दोहन कार्य नई करे जाना हे। सेंचुरी क्षेत्र म यहां तक एक पत्ता तोडना भी अपराध के श्रेणी म आथे , वन विभाग के अधिकारी मन द्वारा जानबुझ के सेचुरी क्षेत्र के दोहन करना या करवाना जंगल के सुरक्षा म संवालिया निशान हे। अब देखना ये हे कि अधिकारी मन बर कार्यवाही कोन करही? यदि ऐ तरह के कार्य होत रहे तो आगामी समय म सेंचुरी के नामोंनिशान मिट जाही।


अऊ खबर

img not found

06/09/2020 अपराध

img not found

21/11/2019 धान

Top