लाॅकडाउन म शराब दुकान खोलना उचित नही, हम एखर विरोध करबो, कोर्ट घलो जाबो


लाॅकडाउन म शराब दुकान खोलना उचित नही, हम एखर विरोध करबो, कोर्ट घलो जाबो
  03/04/2020  


रायपुर ।।  कोरोना वायरस संक्रमण के फैलाव रोके बर छत्तीसगढ़ म लाॅकडाउन हे, फेर ए बीच सरकार शराब दुकान खोले जात हे. शुक्रवार के आबकारी विभाग ह आदेश जारी कर शराब दुकान के संचालन बर चार सदस्यीय कमेटी बना देहे हे. सरकार के ए निर्णय उपर पूर्व मुख्यमंत्री डाक्टर रमन सिंह ह तीखा विरोध दर्ज कराए हे. ओमन केरल के उदाहरण देते हुए कहिव के लाॅकडाउन रहत उहां भी सरकार ह शराब दुकान खोले के अनुमति देहे रहिस , फेर लोगन विरोध दर्ज कराइन अउ हाईकोर्ट म याचिका लगा देहे गईस. कोर्ट ह एखर उपर सुनवाई के दौरान शराब दुकान खोले जाए म पर कड़ा ऐतरात जताते हुए प्रतिबंध लगाए जाए के आदेश दिहिस . रमन सिंह कहिस - छत्तीसगढ़ म भी सरकार के ए फैसला ल हम हर स्तर पर विरोध करबो. पूरा प्रदेश एखर विरोध करही. अगर ए प्रतिबंध ल हटाए गईस त हमन घलो कोर्ट जाबो

डाक्टर रमन कहिस के, आपदा ले निपटे बर हम सबके बराबर के भागीदारी हे. मुख्यमंत्री के रूप म भूपेश बघेल अगर अच्छा काम करे हे त मै ओखर तारीफ भी करे हंव . छत्तीसगढ़ ह अच्छा कदम उठाए हे. अगर आज ओखर सराहना होत त अइसे कदम झन उठावय के जेखर ले राष्ट्रव्यापी ओखर आलोचना होवय.

पूर्व मुख्यमंत्री डाक्टर रमन सिंह कहिस के कोरोना वायरस ल  हम आपदा के रूप म देखत हन . सोशल डिस्टेंसिग उपर अतका जोर देहे जात हे कि स्कूल, कॉलेज, दुकान, माल सब बंद कर देहे गए हे. जहां 10 आदमी भी इक्कठा होत हे, ओ जगह ल प्रतिबंधित कर देहे गए हे. दवा, दूध अउ सब्जी बर छूट देहे गए हे, फेर मोला आश्चर्य होवत हे कि मंदिरा प्रेमी मन बर  सरकार ये निर्णय लेहे गए हे .ए ह बहुँत आपत्तिजनक हे. ये स्वास्थ्य बर हानिकारक भी हे. सरकार अपने आदेश म मदिरा प्रेमी मन के मांग म आबकारी विभाग के अधिकारी मन के कमेटी बना दे हे. एमा कोनो विशेषज्ञ, सोशल एक्टिविस्ट, डॉक्टर जइसे लोगन ल नइ लेहे गए हे जेन कोरोना के शराब से कनेक्शन बता सकय. बल्कि ये स्पष्ट हो चुके हे कि शराब ले इम्युनिटी कमजोर होथे . इंफेक्शन के खतरा ज्यादा होथे. पूर्व मुख्यमंत्री कहिस -  बड़े-बड़े इंडस्ट्रीज के बंद होए ले रिवेन्यू लास होवत हे. कई हजार करोड़ के नुकसान हो सकत हे . सरकार के राजस्व म कमी आत हे हे फेर ए बेरा सबले ज्यादा जरूरी लोगन के स्वास्थ्य हे.


अऊ खबर

img not found

06/09/2020 अपराध

img not found

21/11/2019 धान

Top