रायगढ़ : घर रहके कोरोना ले कइसन करबो अपन इलाज,कइसन जांचबो ये बताही ये रथ


रायगढ़ : घर रहके कोरोना ले कइसन करबो अपन इलाज,कइसन जांचबो ये बताही ये रथ
  29/09/2020  


मोहन नायक

रायगढ।कोरोना के बढ़त संख्या ल देखत अब अधिकतर मरीज मन ला घर म रहके ही  शासन के गाइड लाइन के अनुसार  दवा लेहे के संगे संग होम आइसोलेशन म कैसे प्लस ऑक्सीमीटर के उपयोग करे बर ये,वाक टेस्ट ,टेम्प्रेचर रिडिंग कैसे करना हे ?येला बताये के संगे संग सबो घर रहोइय्या मरीज के इलाज अउ सुरक्षा के जानकारी प्रचार रथ के माध्यम ले बताय जाही।ये जागरूकता प्रचार रथ ला कलेक्टर भीमसिंह हर हरी झंडी दिखाके रवाना करिस।ये रथ हर शहर के जमो इलाका में घूम घूम के सबो जानकारी अउ जिला प्रशासन दुवारा कोरोना मरीज मन के सुविधा बर स्थापित होम आइसोलेशन कंट्रोल रूम  अउ आपातकालीन स्थिति बर जारी फोन नम्बर के जानकारी घले दिही।रायगढ जिला के हालात ला देखत ये सबके जरूरत महसूस करे जात रहिस। काबर की बढ़त मरीज मन के संख्या खातिर ज्यादा उम्र के या गम्भीर अउ अन्य किसिम के बीमारी ले पीड़ित मरीज मन ला कोविड19 हॉस्पिटल लेवत हे ।बाकि मन के इलाज घर म ही होम आइसोलेशन म होत हे, तब ये मन ला ये चेक करें अउ रहे के सबो जानकारी अउ सावधानी जरूरी हावे।जेला जागरूक करे के दिशा म ये प्रचार रथ के बड़खा भूमिका हावे।
येकर अलावा गली मुहल्ला म 3 मूवीग एड रिक्शा  अउ पम्पलेट के माध्यम ले कोरोना ले बाचे बर सोशल डिस्टेंसिंग,मास्क पहनाई अउ हाथ के बार बार धोआई अउ सेनेटाइजर प्रयोग करे के सम्बन्ध म जानकारी देहे अउ जागरूक करे के प्रयास करे जाही।
  
जनता ला घले समझना पड़ही जान हे तो जहान हे

ये सब तो शासन प्रशासन के जन हित म बचाव बर एक पहल हे।येकर आघु रायगढ़ जिला म प्रदेश म सबले आघु सेम्पल कलेक्शन वैन घले शुरू करे जा चुके हे।लेकिन ये सबके बाद घले  भारी संख्या म मरीज मन के बढ़त स्थिति म काबू पाय बर प्रशासन के प्रयास हर नाकाफी ये।येकर बर खुद लोगन मन ला जागरूक होना जरूरी हावे।अपन के लापरवाही अपनेच के जान बर खतरा बन सकत हे ये बात ला समझे के जरूरत हे।काबर की रायगढ़ ज़िला म आभी तक 6 हजार ले ज्यादा संक्रमित हो चुकीन अउ 60 ले ज्यादा के कोरोना ले मौत घले हो चुकिस न।एक हफ्ता के लाक डाउन के बाद घले संख्या म कमी नई आईस हे।अइसन म स्थिति के गम्भीरता न सिरिफ शहर म बल्कि गॉव गॉव म घले समझे के जरूरत हे।
सारंगढ अउ बरमकेला अंचल म भारी संख्या म गॉव गॉव घले मरीज मिले हे अइसन म ग्रामीण इलाका म घले ध्यान देहे के जरूरत हावे।कुल मिलाके ये बात ला समझना पड़ही कि *"जान हे तो जहान हे*"।


अऊ खबर

img not found

06/09/2020 अपराध

img not found

21/11/2019 धान

Top